पनऊपुरवा हत्याकांड का आरोपी फरार

0

न्यूज जगंल डेस्क: कानपुर कानपुर के चौबेपुर के पनऊपुरवा हत्याकांड में 28 घंटे बाद चौबेपुर थाने में मंगलवार देर रात एफआईआर दर्ज की गई। मृतक की बहू की तहरीर पर पुलिस ने वारदात के वक्त वहां मौजूद और शह देने वाले थाने के दो दरोगा, ग्राम प्रधान और उसके पिता के साथ ही 10 नामजद और कई अज्ञात के खिलाफ हत्या समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया। प्रधानी के चुनाव की रंजिश में हत्याकांड को अंजाम दिया गया है।

बता दें कि पुलिस के सामने सोमवार देर रात एक परिवार पर गांव के ही दूसरे परिवार ने हमला कर दिया था। चापड़ और कुल्हाड़ी से दरवाजा तोड़कर घर में घुसे दबंगों ने बुजुर्ग दंपति समेत परिवार के अन्य सदस्यों को दौड़ा-दौड़ा कर लाठी-डंडा और धारदार हथियार से जमकर पीटा। पिटाई से बुजुर्ग की मौत हो गई, जबकि परिवार के छह लोग घायल हो गए थे।

ये भी देखे: कुत्ते की हत्या पर थाने में किया जमकर हंगामा

हत्याकांड में एक भी गिरफ्तारी नहीं
एसपी आउटर अष्टभुजा प्रसाद ने बताया कि मृतक आनंद कुमार कुरील की हत्या में उनकी बहू संदीपा की तहरीर पर बुधवार को एफआईआर दर्ज की गई है। इसमें ग्राम प्रधान मनीष दीक्षित, प्रधान के पिता रामकुमार दीक्षित, श्रीकृष्ण के साथ ही उनके बेटे राजन, शोभित, गोविंद, भतीजा सुधीर, थाने के दरोगा व हल्का इंचार्ज गोपी कृष्ण अग्रवाल, दरोगा रोशन शेर बहादुर यादव समेत 10 लोगों के खिलाफ नामजद और दो अज्ञात सिपाहियों समेत अन्य के खिलाफ हत्या, हत्या का प्रयास, बलवा समेत अन्य गंभीर धाराओं में एफआईआर दर्ज की गई है। हत्यारोपी दरोगा और ग्राम प्रधान समेत सभी आरोपी फरार हैं।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *