पद्म पुरस्कार 2021 : पूर्व जापानी पीएम शिंजो आबे समेत सात हस्तियां पद्म विभूषण से सम्मानित

0

न्यूज जंगल डेस्क, कानपुर : गणतंत्र दिवस के मौके पर दिए जाने वाले पद्म पुरस्कारों (Padma Awards) का एलान कर दिया गया. इस बार सात हस्तियों को पद्म विभूषण, 10 को पद्म भूषण और 102 को पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया है. वहीं 16 हस्तियों को मरणोपरांत पद्म पुरस्कार प्रदान किया गया. देश का दूसरा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म विभूषण पाने वालों में जापान के सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहे शिंजो आबे और पा‌र्श्व गायक एसपी बालासुब्रमण्यम (मरणोपरांत) का भी नाम शामिल है. वहीं, असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई (मरणोपरांत), पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान (मरणोपरांत) और पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन को पद्म भूषण से नवाजा गया.

इन्‍हें दिया गया पद्म विभूषण सम्‍मान 

  • शिंजो आबे (जापान) : जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के कार्यकाल में भारत-जापान के संबंधों में काफी प्रगति हुई थी. उन्‍हें लोकसेवा के लिए पद्म विभूषण सम्मान दिया गया है. 
  • एसपी बालासुब्रमण्यम (मरणोपरांत) : गायक एसपी बालासुब्रमण्यम को कला क्षेत्र में योगदान के लिए पद्म विभूषण सम्मान गया. उन्‍होंने तेलुगू, तमिल, कन्नड़, हिंदी और मलयालम भाषाओं में हजारो गाने गाए थे.
  • सुदर्शन साहू : ओडिशा के चर्चित मूर्तिकार सुदर्शन साहू को कला के क्षेत्र में योगदान के लिए पद्म विभूषण से सम्‍मानित किया गया है. उनकी बनाई कलाकृतियों की चर्चा दुनियाभर में होती है.
  • नरिंदर सिंह कपानी : केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से की गई घोषणा के मुताबिक, फाइबर आप्टिक्स के क्षेत्र में अपने काम के लिए प्रख्यात भारतीय-अमेरिकी भौतिक विज्ञानी नरिंदर सिंह कपानी को भी मरणोपरांत पद्म विभूषण प्रदान किया गया.

इन्‍हें किया गया पद्म विभूषण से सम्मानित

कर्नाटक के प्रसिद्ध हृदय रोग विशेषज्ञ बेल्ले मोनप्पा हेगड़े, भारतीय इस्लामी विद्वान एवं कार्यकर्ता मौलाना वाहिदुद्दीन खान, पुरातत्वविद बीबी लाल को भी पद्म विभूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया. इसके अलावा कुल 10 लोगों को पद्म भूषण पुरस्कार दिया गया है. इनमें असम के पूर्व सीएम तरुण गोगोई (मरणोपरांत), पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान (मरणोपरांत) और पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन के अलावा गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशूभाई पटेल (मरणोपरांत), भारतीय इस्लामिक विद्वान कल्बे सादिक (मरणोपरांत), प्रधानमंत्री के पूर्व प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्र, सामाजिक कार्यकर्ता तरलोचन सिंह, शास्त्रीय गायिका केएस चित्रा, चंद्रशेखर कंबारा, रजनीकांत देवीदास श्राफ शामिल हैं. वहीं पूर्व राज्यपाल मृदुला सिन्हा (मरणोपरांत) और पूर्व केंद्रीय मंत्री बिजोय चक्रवर्ती को पद्मश्री से सम्मानित किया गया.

 वहीं  कला के क्षेत्र से जुड़े लोगों में कंगना रनौत (Kangana Ranaut) से लेकर सरिता जोशी (Sarita Joshi) तक, कई कलाकारों को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद देवारा पद्मश्री पुरस्कार (Padma Shri Awards 2021) से सम्मानित किया गया.

ये भी पढ़े :“BJP परिवार वाली पार्टी नहीं” बोले पीएम मोदी

मृदुला सिन्हा, पीटर ब्रूक समेत 102 हस्तियों को पद्म श्री 

गोवा की पूर्व राज्यपाल मृदुला सिन्हा (Mridula Sinha), ब्रिटिश फिल्म निर्देशक पीटर ब्रूक (Peter Brook), फादर वलिस (मरणोपरांत), प्रोफेसर चमन लाल सप्रू (मरणोपरांत) समेत कुल 102 हस्तियों को पद्म श्री पुरस्कार से सम्‍मानित किया गया. वहीं खास बात यह है कि पद्म पुरस्कार पाने वालों में 29 महिलाएं हैं जबकि 10 लोग अनिवासी भारतीय (NRI), भारतीय मूल के व्यक्ति (PIO) व ओवरसीज सिटीजन आफ इंडिया हैं. इनमें एक ट्रांसजेंडर है.

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *