Acidity Home Remedies in Hindi

Home Remedies For Acidity: इन घरेलू नुस्खों सें पल में करें एसिडिटी को छूमंतर

Home Remedies For Acidity In Hindi: पेट में होने वाली कोई भी समस्या आपको असहज कर सकती है। ऐसी ही एक सामान्य सी दिक्कत है एसिडिटी जिससे हम सभी कभी न कभी परेशान हुए ही होंगे।

आमतौर पर गैस्ट्रिक ग्रंथियों द्वारा अधिक मात्रा में एसिड का उत्पादन होने के कारण एसिडिटी की समस्या उत्पन्न होती है | एसिड पाचन के लिए आवश्यक होता है, पर इसकी अधिकता एसिडिटी जैसी समस्याओं का कारण बन सकती है।

Acidity Home Remedies

कई बार भोजन से संबंधित दिक्कतों के कारण भी एसिडिटी की समस्या (acidity problem in hindi) हो सकती है। ऐसी स्थिति में पेट में जलन, खट्टी डकार आने और असहजता का अनुभव हो सकता है।

सामान्यतौर पर एसिड रिफ्लक्स (acid reflux) और हार्टबर्न के लिए कुछ दवाओं को प्रयोग में लाने सें लाभ मिल जाता है, पर अगर अक्सर आपको इस तरह की परेशानियाँ बनी रहती हैं तो इस बारे में किसी विशेषज्ञ से सलाह जरूर ले लेनी चाहिए।

कभी-कभार होने वाली एसिडिटी की समस्या में कुछ घरेलू उपायों (home remedies for acidity) को भी प्रयोग में लाकर आसानी से लाभ पाया जा सकता है। आइए एसिडिटी के ऐसे ही कुछ कारगर घरेलू नुस्खों के बारे में जानते हैं।

घर पर तुरंत एसिडिटी कैसे ठीक करें?

  • नारियल पानी
  • पुदीने की पत्तियाँ
  • जीरे का पानी
  • छाछ

1. एसिडिटी में नारियल पानी के लाभ

नारियल का पानी पीने के फायदे (coconut water benefits)

एसिडिटी और पेट से संबंधित कई असहज करने वाली समस्याओं में नारियल का पानी पीना (coconut water benefits) लाभदायक माना जाता है। आपको हार्टबर्न और अपच जैसी समस्याओं में नारियल का पानी पीने से राहत मिल सकती है।

नारियल के पानी में फाइबर की भरपूर मात्रा होती है जो आपके पाचन तंत्र को शांत करने में मदद करती है। साथ ही यह आपके पेट को अतिरिक्त एसिड उत्पादन के प्रभाव से बचा सकती है। रोजाना नारियल पानी पीना सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है।

2. पुदीने की पत्तियाँ हैं फायदेमंद

एसिडिटी की समस्या में बेहद कारगर घरेलू उपाय पुदीना को माना जाता है। पुदीने की पत्तियों में पाचन गुण होते हैं और साथ ही साथ यह प्राकृतिक रूप से पेट को ठंडा रखने में मदद करती है। एसिडिटी और हार्टबर्न (heartburn home remedies in hindi) की समस्या से राहत दिलाने में पुदीना लाभदायक होता है।

पुदीने की पत्तियाँ

एसिडिटी में पुदीने की पत्तियों को उबालकर उसका पानी पी सकते हैं। पुदीने की चाय एसिड रिफ्लक्स (natural remedy for acid reflux) के लिए एक प्रभावी प्राकृतिक उपचार के रूप में काम करती है। पुदीने की पत्तियों को पीसकर इसे पानी में मिलाकर भी सेवन किया जा सकता है।

3. पेट की समस्याओं में जीरे के पानी के फायदे

Jeera water benefits For stomach

आयुर्वेद के अनुसार जीरा पेट के पाचन को बेहतर बनाए रखने में सबसे बेहतर औषधि हो सकता है। जीरा पाचन रस को उत्तेजित करने, एसिडिटी और अपच जैसी पेट की समस्याओं को कम करने में काफी कारगर माना जाता है।

एसिडिटी की समस्या को दूर करने के लिए जीरे का पानी (jeera water benefits) पीना भी काफी असरदार उपाय हो सकता है। जीरे की पीना पाचन को ठीक रखने और अपच से राहत दिलाने में मदद करता है।

4. छाछ पीने से पेट रहता है ठंडा

छाछ पीने के फायदे

एसिड रिफ्लक्स और हार्टबर्न की समस्या से राहत दिलाने में छाछ (buttermilk benefits in hindi) पीना भी काफी फायदेमंद माना जाता है। इसमें लैक्टिक एसिड होता है जो आपके पेट में एसिड की मात्रा को सामान्य करने में मदद करता है।

एसिडिटी से राहत पाने के लिए आप एक गिलास छाछ पी सकते हैं। छाछ, पेट को ठंडा रखने और अपच की समस्या को दूर करने में भी काफी असरदार माना जाता है।

सेहत से जुड़ी ऐसी खबरों को पढ़ने के लिए NewsJungal के साथ जुड़े रहिये |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *