मोतीझील लॉन में दीपोत्सव-2021 में देखने को मिली पूरे प्रदेश की झलक

न्यूज जगंल डेस्क: कानपुर मोतीझील लॉन में नगर निगम द्वारा आयोजित दीपोत्सव-2021 में पूरे प्रदेश की झलक देखने को मिली। कैबिनेट मंत्री सतीश महाना और महापौर प्रमिला पांडेय ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम के पहले दिन हजारों की संख्या में लोग उमड़े। कार्यक्रम की शुरुआत लेजर शो पर आयोजित भस्म आरती से हुई। प्रशासनिक अधिकारियों ने भी मेले का खूब आनंद लिया। 3 नवंबर तक मेले का आयोजन होगा।

लेजर शो ने किया आकर्षित
लेजर शो पर रामायण और भस्म आरती का सभी ने लुत्फ उठाया। इसके बाद अच्छे दिन आने वाले हैं… का सॉन्ग गाने वाले अमन त्रिखा और बॉलीवुड सिंगर विनती सिंह के गानों पर लोग जमकर थिरके। कार्यक्रम में कई जिलों के वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट के तहत 50 से ज्यादा स्टॉल लगाए गए हैं। कुल 150 से ज्यादा स्टॉल लगाए गए हैं।

आय बढ़ाने के लिए आयोजन
इस मौके पर सतीश महाना ने कहा कि इस मेले का उद्देश्य रेहड़ी, पटरी दुकानदारों को एक प्लेटफार्म उपलब्ध कराना है। इन छोटे-छोटे दुकानदारों की आय बढ़ाकर उन्हें स्वावलम्बी बनाया जा सके। महापौर ने कहा कि आयोजन से दीपावली के त्योहार में शहर वासियों को एक ही स्थान पर सभी चीजें उपलब्ध हो ऐसा प्रयास किया गया है। कमिश्नर डा. राज शेखर ने कहा कि प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करता हूं कि उन्होंने इन छोटे- छोटे दुकानदारों के घर में खुशहाली लाने के बारे में सोचा।

सरकार की उपलब्धियां भी गिनाई गईं
दीपावली मेला में प्रदेश सरकार की उपलब्धियों पर आधारित प्रर्दशनी, ओडीओपी के स्टाल, पं.दीन दयाल आजीविका मिशन के अन्तर्गत स्वयं सहायता समूह के स्टाल, सांस्कृतिक कार्यक्रम, फूड जोन, फन जोन, सेल्फी प्वाइंट, अयोध्या के राम मन्दिर की प्रदर्शनी इत्यादि आकर्षण का केन्द्र रहे। मेले में सरकार की उपब्धियों, नीतियों एवं योजनाओं से संबंधित प्रचार-प्रसार भी किया गया।

सेल्फी प्वाइंट में ली सेल्फी
मेले के पास में ही सेल्फी प्वाइंट तैयार किया गया है। मंत्री सतीश महाना, महापौर समेत अधिकारियों ने भी यहां एक-दूसरे के साथ सेल्फी क्लिक की। वहीं डीएम विशाख जी ने मेले के हर स्टॉल में गए। उन्होंने कई सामान भी खरीदा। बताया कि कानपुर में 3 स्थानों मोतीझील, घाटमपुर और बिल्लौर में दीपोत्सव का कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है।

ये भी देखे: आज फिर होगी सुप्रीम कोर्ट में पटाखों के प्रतिबंध मामले में सुनवाई

पूरे प्रदेश का मिल रहा सामान
-पीलीभीत की बासुरी
-बनारसी साड़ी व कॉटन
-चित्रकूट के खिलौने
-बनारसी सिल्ट साड़ी व सूट
-सम्बल की चूड़ी, माला
-मुजफ्फरनगर के देशी गुड व शक्कर
-बनारस के खिलौने
-बरेली जरी की साड़ी
-निजामपुर हापुड़ की चादर
-बिजनौर के बेड शीट
-कानपुर का लेदर/आचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *