Sunday , March 3 2024
Breaking News
Home / अन्य / इजरायल ने बनाया बवंडर प्लान हमास के खात्मे के लिए, पानी से लिखेगा ‘मौत की कहानी’

इजरायल ने बनाया बवंडर प्लान हमास के खात्मे के लिए, पानी से लिखेगा ‘मौत की कहानी’

इजरायल और फिलिस्तीनी आतंकी संगठन हमास के बीच जारी जंग को अब 2 महीने होने वाले हैं. इस बीच हमास को जड़ से खत्म करने के लिए इजरायल का नया प्लान सामने आया है

News jungal desk : इजरायल और फिलिस्तीनी आतंकी संगठन हमास के बीच जंग जारी है । और इस बीच इजरायल ने हमास को जड़ से उखाड़ने का नया प्लान बनाया है । और इसे लेकर सोमवार को एक रिपोर्ट में बड़ा खुलासा किया गया है । और इजरायल ने गाजा पट्टी के नीचे हमास की सुरंगों की प्रणाली को भूमध्य सागर से पंप किए गए समुद्री पानी से भरने की योजना तैयार की है ।

इसका उद्देश्य आतंकवादी समूह के मार्गों और पनाहगाहों के भूमिगत नेटवर्क को नष्ट करना और उसके लड़ाकों को जमीन से ऊपर ले जाना है । और अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से वॉल स्ट्रीट जर्नल ने बताया कि इजरायल रक्षा बलों ने पिछले महीने गाजा शहर में अल-शती शरणार्थी शिविर के पास पांच बड़े जल पंप स्थापित किए हैं ।

यह पंप हजारों क्यूबिक मीटर प्रति घंटा पानी पंप करके कुछ ही हफ्तों में सुरंगों में पानी भरने में सक्षम हैं. अधिकारियों ने कहा कि इजरायल ने पिछले महीने योजना के बारे में अमेरिका को अलर्ट किया था, लेकिन अभी तक यह तय नहीं किया है कि इसे लागू किया जाए या नहीं. रिपोर्ट में कहा गया है कि यह स्पष्ट नहीं है कि दक्षिणी इजरायल में 7 अक्टूबर के हमले के दौरान हमास द्वारा अगवा किए गए सभी बंधकों को मुक्त करने के बाद आईडीएफ सुरंगों में पानी भरने के लिए कदम उठाएगा. क्योंकि यह आशंका जताई जा रही है कि आतंकवादी संगठन इन बंधकों को इसी सुरंग में छुपाकर रखा होगा.

प्रशासन में इजरायल के इस प्लान को लेकर राय मिश्रित थी, कुछ अधिकारियों ने इजरायली योजना के बारे में चिंता व्यक्त की. जबकि अन्य ने कहा कि वे सुरंगों को नष्ट करने के इजरायल के प्रयासों का समर्थन करते हैं और जरूरी नहीं कि कोई अमेरिकी विरोध हो. हलांकि वॉल स्ट्रीट जर्नल में इस प्लान को लेकर कई चिंताएं भी उजागर की गई हैं. इसमें कहा गया है कि इससे गाजा की मिट्टी को संभावित नुकसान हो सकता है. साथ ही अगर सुरंगों में समुद्री जल और खतरनाक पदार्थ का मिश्रण होता है तो यह काफी खतरनाक हो सकता है. वहीं इमारतों की नींव पर संभावित प्रभाव को भी उजागर किया गया है ।

यह भी पढ़े : ब‍िहार : हुआ क्या है मुख्यमंत्री को नीतीश कुमार की तबीयत चिंता का विषय है; चिराग ने कहा हेल्थ बुलेटिन जारी करें सरकार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *