Monday , March 4 2024
Breaking News
Home / मनोरंजन / Bigg Boss 17: ट्रॉफी जीतने के बाद विजेता मुनव्वर ने खास अंदाज में दिया भाईजान को धन्यवाद, कही ये बातें…

Bigg Boss 17: ट्रॉफी जीतने के बाद विजेता मुनव्वर ने खास अंदाज में दिया भाईजान को धन्यवाद, कही ये बातें…

मुनव्वर ने हाल ही में सोशल मीडिया पर एक पोस्ट साझा कर शो के होस्ट सलमान खान को धन्यवाद दिया। मुनव्वर फारूकी ने अपनी मां को ट्रॉफी समर्पित कर दी है।

News jungal desk: सलमान खान के द्वारा होस्ट किया जाने वाला रियलिटी शो ‘बिग बॉस’ का 17वां सीजन अब खत्म हो गया है। इसी के साथ इसका विनर भी घोसित किया जी चुका है। आपको बता दें कि अंकिता लोखंडे, मनारा चोपड़ा, अभिषेक कुमार, अरुण महा शेट्टी को पीछे छोड़कर ‘बिग बॉस 17’ की ट्रॉफी मुनव्वर फारूकी ने अपने नाम की है। इसको साथ ही मुनव्वर ने हाल ही में सोशल मीडिया पर एक पोस्ट साझा कर शो के होस्ट सलमान खान को धन्यवाद दिया। इसके आलावा अभिनेता ने ‘बिग बॉस’ की उतार-चढ़ाव भरी जर्नी पर भी खुलकर बात की।  

खास अंदाज में कहा भाईजान को धन्यवाद 
‘बिग बॉस 17’ की जीत के बाद मुनव्वर फारुकी ने हाल ही में अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम हैंडल पर एक पोस्ट साझा की है। जिसमें उन्होंने सलमान खान के साथ एक तस्वीर साझा की, जिसमें वे ‘बिग बॉस’ 17वें सीजन की ट्रॉफी पकड़े हुए भाईजान के साथ नजर आ रहे हैं। आपको बता दें कि तस्वीर साझा कर मुनव्वर ने कैप्शन में लिखा, ‘बहुत बहुत शुक्रिया जनता।’ उन्होंने आगे सलमान खान का धन्यवाद देते हुए कहा, आपके प्यार और सपोर्ट के लिए आखिर कर ट्रॉफी डोंगरी आ ही गई। उन्होंने मार्गदर्शन के लिए बड़े भाई सलमान खान को दिल से शुक्रिया।’

जानिए ट्रॉफी के साथ और क्या मिला इनाम
आपको बता दें कि ‘बिग बॉस’ के 17वें  सीजन के विनर मुनव्वर फारूकी को 50 लाख रुपये की इनामी राशि दी गई है। वहीं, इसके साथ ही विनर को एक चमचमाती कार और सीजन 17 की थीम (दिल, दिमाग और दम) पर आधारित एक शानदार ट्रॉफी भी दी गई है। बताया जा रहा है कि पिछली बार के मुकाबले इस बार की इनामी राशि काफी ज्यादा है।

जानिए किसे समर्पित की ट्रॉफी 
आपको बता दें कि मुनव्वर फारूकी ने ‘बिग बॉस 17’ की ट्रॉफी उठाने के अनुभव को साझा करते हुए कहा, ‘यह एहसास अवास्तविक था, जिस तरह से मेरी यात्रा रही है, वह पल ऐसा था कि मैं उस ट्रॉफी का वजन महसूस कर सकता था। इसके साथ ही उन्होने कहा कि इस ट्रॉफी की मुझे बहुत कीमत चुकानी पड़ी।’ मुनव्वर ने ट्रॉफी अपनी मां को समर्पित करते हुए एक खूबसूरत शायरी बोली, ‘तू साथ न मां, पर साथ तेरा साया था, कितना मशहूर रुतबा एक कमाया था, वो तोड़ने आए थे मेरा मिट्टी का महल, लेकिन बेटा मुमताज का उनका ताज छीन के आया था।’

Read also: कम नहीं हो रहीं हैं टीम इंडिया की परेशानियां, दूसरे टेस्ट से बाहर हुए रवींद्र, कुलदीप को मिल सकता है मौका…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *