Monday , March 4 2024
Breaking News
Home / अन्य / 14 वर्ष तक प्रभु राम की प्रतीक्षा भी तपस्या-मन्नत मां

14 वर्ष तक प्रभु राम की प्रतीक्षा भी तपस्या-मन्नत मां

-बीएनएसडी शिक्षा निकेतन में हुयी संत समाज की तैयारी बैठक
-21 जनवरी को घूमेंगे तीन रथ, इनमें एक किन्नरों का

कानपुर। 22 जनवरी को अयोध्या राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा से पूर्व शहर को राममय बनाने को लेकर संत समाज की बैठक में किन्नर समाज का भी प्रतिनधित्व रहा।

बीएनएसडी शिक्षा निकेतन हुयी बैठक की अध्यक्षता बालयोगी श्रीअरुण पुरी महाराज ने की। अखिल भारत हिन्दू किन्नर महासभा की अध्यक्ष मंगलामुखी किन्नर मन्नत मां ने प्रभु श्रीराम ने कहा कि उनके समाज के पुरखों ने सरयू तट पर 14 वर्ष तक राम की प्रतीक्षा की। यह प्रसंग रामकथा मिलता है। उनके वन गमन पर नर नारियों को लौटने का आदेश था पर किन्नरों के लिए नहीं था। लंका विजय के बाद लौटने पर किन्नरों को पाकर प्रभु की आंखों में आंसू आ गए। यह किन्नरों ही तपस्या ही तो थी।

संत श्रीराम पुरी ने कहा कि 22 को अपने घरों के आसपास के मंदिरों को सजाने, मोहल्लों की साफ सफाई करेंगे। उन्होंने कहा कि भव्य रथ यात्रा निकलेंगे। इसमें तीन रथ होंगे। मन्नत ने बताया कि एक रथ पर वह भी होंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *