Kanpur Court : इंसान नहीं जानवर हूं…पेशी पर लाए गए सपा विधायक इरफान सोलंकी का फूटा गुस्सा

इरफान सोलंकी को आज महाराजगंज जेल से कानपुर कोर्ट में पेशी के लिए लाया गया था । जहाॅ सोलंकी ने पत्रकारों से कहा कि ,मै इंसान नही जानवर हूं ।

News Jungal kanpur Desk : समाजवादी पार्टी के विधायक इरफान सोलंकी को आज महाराजगंज जेल से कानपुर कोर्ट में पेशी के लिए लाया गया था। इरफान सोलंकी को 7 नवंबर को जाजमऊ इलाके में हुए प्लॉट में आगजनी मामले में पेश किया जाना था। जहां चश्मदीद कनीज जेहरा की गवाही होनी थी ,लेकिन आज कानपुर कोर्ट में वकील हड़ताल पर थे इसलिए गवाही नहीं हो सकी। इरफान सोलंकी के वकील ने कोर्ट को एक दरख्वास्त दी कि बार-बार महाराजगंज जेल से कानपुर कोर्ट लाने ले जाने में इरफान सोलंकी को काफी परेशानियां हो रही है। इसके साथ ही कुछ दिन बाद रमजान भी शुरू होने जा रहे हैं और इरफान और धार्मिक मान्यताओं के साथ रोजा जरूर रखते हैं। ऐसे में उन्हें फिजिकल प्रेजेंस से छूट दी जाए और वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए उनके सभी मुकदमों में सुनवाई की जाए। इरफान के वकील की माने तो कोर्ट ने उन्हें आश्वस्त किया है कि इस एप्लीकेशन पर सकारात्मक रूप से विचार करते हुए उन्हें इसकी इजाजत दी जा सकती है। वहीं इरफान से जब हमने बातचीत की तो उन्होंने कहा कि उन्हें मुख्यमंत्री को लिखे गए पत्र के बाबत मालूम है और उन्हें अल्लाह से न्याय की उम्मीद है। इसके साथ ही अखिलेश यादव पर सवाल पूछे जाने पर इरफान सोलंकी ने कहा कि अखिलेश उनके साथ हैं इसमें कोई शक नहीं है। अखिलेश यादव परिवार का हिस्सा है। वहीं पेशी पर आए इरफान के भाई रिजवान सोलंकी ने कहा कि मां की दुआ उनके साथ है और उन्हें न्याय मिलेगा।
इरफान की पत्नी द्वारा पिछली बार मुलाकात ना कराने को लेकर जो आरोप लगाए गए थे उसके मद्देनजर उनकी मुलाकात आज विधायक से करवाई गई जिससे वो संतुष्ट भी दिखीं।
इरफान सोलंकी ने कहा कि कानपुर की जनता, मेरी विधानसभा की जनता सब जानती है। मेरा वकील मेरा अल्लाह है ।मेरे ऊपर लगाए गए मुकदमे सही है या फर्जी है। आप लोग मुझे साल 1996 से जानते हैं और आप सभी जानते हैं कि यह सारे मुकदमे मुझ पर कैसे लगाए गए हैं।

यह भी पढे : Kanpur news: आधा घंटा योग का डोज रखेगा निरोग, करेगा शरीर में ऊर्जा एवं स्फूर्ति का संचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *