Monday , March 4 2024
Breaking News
Home / अन्य / सफर में बचेंगे 13 घंटे,रेगिस्‍तान में तैरती हुई जाएंगी गाड़ियां, 4 राज्‍यों और 10 बड़े शहरों को सीधे होगा फायदा

सफर में बचेंगे 13 घंटे,रेगिस्‍तान में तैरती हुई जाएंगी गाड़ियां, 4 राज्‍यों और 10 बड़े शहरों को सीधे होगा फायदा

राष्‍ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण पंजाब से गुजरात तक करीब 1,300 किलोमीटर का एक्‍सप्रेसवे तैयार कर रहा है, जो दोनों शहरों के बीच सफर का समय घटाकर आधा कर देगा. इसका फायदा 4 राज्‍यों और 10 बड़े शहरों को मिलेगा

  News jungal desk :– देश में हाईवे और एक्‍सप्रेसवे के निर्माण का काम बहुत तेजी से चल रहा है । और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार देश के हर बड़े शहर को आपस में जोड़ने और उनके बीच सफर को आसान बनाने पर काम कर रही है । और ऐसा ही एक एक्‍सप्रेसवे पंजाब और गुजरात के बीच बन रहा है । रेगिस्‍तान के बीच से गुजरने वाले इस एक्‍सप्रेसवे के तैयार होने के बाद दोनों राज्‍यों के बीच सफर का समय आधा रह जाएगा ।

राष्‍ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) के अनुसार, पंजाब के अमृतसर से गुजरात के जामनगर के (Amritsar Jamnagar Expressway) बीच करीब 1,316 किलोमीटर लंबा एक्‍सप्रेसवे बनाया जा रहा है । और इसका काम लगभग पूरा हो चुका है और जल्‍द ही इसे सर्विस के लिए खोल दिया जाएगा । और रेगिस्‍तान और हरियाणा के रेतीले क्षेत्र से गुजरने वाले इस एक्‍सप्रेसवे के तैयार होने से न सिर्फ आम आदमी को फायदा होगा, बल्कि सामान की ढुलाई और कारोबारियों को भी बहुत लाभ होगा ।

शुरू हो चुका है सफर
अमृतसर-जामनगर एक्‍सप्रेसवे के एक बड़े सेक्‍शन को यातायात के लिए शुरू भी किया जा चुका है । और इस एक्‍सप्रेसवे का करीब 500 किलोमीटर का हिस्‍सा राजस्‍थान में पड़ता है । और यह हनुमानगढ़ जिले के झाखड़ावाली गांव से निकलर जालौर के खेतलावास में समाप्‍त होता है. इस ग्रीन कॉरीडोर को बनाने में 11,125 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं. इसके तैयार होने के बाद राजस्‍थान और हरियाणा-पंजाब के कई बड़े शहरों के बीच सफर आसान हो गया है ।

सफर में कितना समय बचेगा
अमृतसर से जामनगर के बीच अभी करीब 1,516 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ती है, जो एक्‍सप्रेसवे बनने के बाद 216 किलोमीटर कम हो जाएगी. इतना ही नहीं अभी इस दूरी को तय करने में करीब 26 घंटे का समय लगता है । एक्‍सप्रेसवे के बनने के बाद ट्रैवल का समय घटकर 13 घंटे रह जाएगा । इस हाई स्‍पीड कॉरीडोर पर वाहन 100 की स्‍पीड से दौड़ सकेंगे ।

गुजरात से सीधे कश्‍मीर तक सफर
अमृतसर-जामनगर एक्‍सप्रेसवे बनने से पंजाब, दिल्‍ली, राजस्‍थान, हरियाणा और गुजरात को सीधे तौर से तो फायदा होगा । और साथ ही इसे दिल्‍ली-अमृतसर-कटरा एक्‍सप्रेसवे से भी जोड़ा जा रहा है । इसके बाद दिल्‍ली और कश्‍मीर तक जाना भी आसान हो जाएगा । और गुजरात से सीधे कश्‍मीर तक सड़क मार्ग से पहुंचना आसान हो जाएगा ।

किन शहरों को फायदा, क्‍या है खासियत
अमृतसर-जामनगर एक्‍सप्रेसवे के तैयार होने के बाद 4 बड़े राज्‍यों के अलावा अमृतसर, भठिंडा, मोगा, हनुमानगढ़, सूरतगढ़, बीकानेर, नागौर, जोधपुर, बाड़मेर और जामनगर जैसे शहरों को बड़ा फायदा होगा. इस एक्‍सप्रेसवे के रास्‍ते में 5 रेलवे ओवरब्रिज, 20 नदी ओवरब्रिज, 26 इंटरचेंजेज, 55 अंडरपास और 311 छोटे अंडरपास बने हैं. इसके अलावा हर 20 से 30 किलोमीटर पर कार चार्जिंग स्‍टेशन लगाए गए हैं ।

यह भी पढ़े : लॉरेंस विश्नोई का कांट्रेक्ट, 18 महीने की साजिश, जानें गोगामेड़ी हत्याकांड का जेल का कनेक्शन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *