Monday , March 4 2024
Breaking News
Home / अन्य / पीएम मोदी ने ‘नमो ड्रोन दीदी’ कार्यक्रम का किया आगाज

पीएम मोदी ने ‘नमो ड्रोन दीदी’ कार्यक्रम का किया आगाज

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को महिला किसानों को बड़ी सौगात दी है. पीएम मोदी ने एक वर्चुअल कार्यक्रम में महिला किसान ड्रोन केंद्र का उद्घाटन किया. साथ ही पीएम मोदी ने देवघर एम्स में 10000वें औषिधि केंद्र का उद्घाटन किया है. केंद्र सरकार महिला सहायता समूहों को 15 हजार ड्रोन देगी. इसके अलावा पीएम मोदी ने विकसित भारत संकल्प यात्रा के लाभार्थियों से भी बातचीत की. पीएम मोदी ने जन औषधि केंद्रों को 25,000 करने की योजना की शुरुआत की

News jungal desk :- पीएम मोदी ने कहा, ‘पहले की सरकांरे भेदभाव से काम करती थी। हम सत्ता भाव से नहीं सेवा भाव से काम करते हैं सभी योजनाओं को लोगों तक पहुंचाना हमारा काम है । पहलें सरकारें खुद को जनता की माई-बाप समझती थीं. भारत अब रुकने वाला नहीं है. विश्व में भारत की ही बात हो रही है. जनता को भारत सरकार पर भरोसा है. पहले की सरकारों में जनता निराश हो चुकी थी. पहले की सरकारें हर काम में राजनीति देखती थीं ।

वर्चुअल कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अलग-अलग राज्यों के लोगों से बातचीत की और उनसे योजनाओं से जुड़े लाभ के बारे में बातचीत की है पीएम मोदी ने कहा कि सस्ते दाम पर अच्छी दवाइयां उपलब्ध कराना संकल्प है । विकसित भारत संकल्प यात्रा पीएम मोदी की गारंटी है । इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि संकल्प यात्रा में महिलाओं की भागीदारी अहम है ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब ड्रोन चलाने के लिए प्रशिक्षण देने की शुरुआत की गई तो इस योजना को लेकर बहुत से लोगों ने संदेह जताए थे । रमन अम्मा जी जैसी महिलाओं ने साबित कर दिया कि ड्रोन कृषि में तकनीक के दायरे से आगे बढ़कर महिला सशक्तिकरण का भी एक प्रतीक बनकर उभरेगा. आप सभी पूरे देश के लिए एक प्रेरणा हैं. विकसित भारत की इस संकल्प यात्रा में आप जैसी महिलाओं की भागीदारी बहुत ही अहम है ।

पीएम मोदी ने कहा, ‘मैंने लाल किले से देश की ग्रामीण बहनों को ‘ड्रोन दीदी’ बनाने की घोषणा की थी. और मैंने देखा की इतने कम समय में गांव की हजारों बहनों ने ड्रोन चलाना सीख लिया है. मेरे लिए तो ये ड्रोन दीदी को नमन करने का कार्यक्रम है. इसलिए मैं इस कार्यक्रम को नाम देता हूं ‘नमो ड्रोन दीदी है ।

यह भी पढ़े : Pakistan में फातिमा बनी राजस्थान की अंजू लौटी भारत;चार महीने बाद वाघा बॉर्डर पर छोड़ने आया पति नसरुल्ला

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *