Friday , March 1 2024
Breaking News
Home / अन्य / Dawood Ibrahim: कराची में दिया गया दाऊद इब्राहिम को जहर? अस्पताल में भर्ती है अंडरवर्ल्ड डॉन? जाने सच…

Dawood Ibrahim: कराची में दिया गया दाऊद इब्राहिम को जहर? अस्पताल में भर्ती है अंडरवर्ल्ड डॉन? जाने सच…

दाऊद के कराची के अस्पताल में भर्ती किए जाने की भी किसी ने पुष्टि नहीं हो पाई है। अटकलें लगाई जा रही हैं कि उसे अचानक अस्पताल में भर्ती कराने के पीछे का कारण जहर हो सकता है। 

News jungal desk: मुंबई हमलों का गुनाहगार और मोस्ट वांटेड आतंकवादी दाऊद इब्राहिम के बारे में एक बड़ी खबर सामने आई है। कई मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बताया जा रहा है कि उसे जहर देकर मारने की कोशिश की गई है। जिसके बाद उसे कराची में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। हालांकि इस खबर की अभी तक किसी ने पुष्टि नहीं की है। साथ ही इस बात के बारे में भी कोई जानकारी नहीं हो पाई है कि उसे जहर किसने दिया। 

अस्पताल में भर्ती होने को लेकर लगाए जा रहे अनुमान

दाऊद के कराची के अस्पताल में भर्ती किए जाने की भी अभी तक किसी ने पुष्टि नहीं की है। अनुमान लगाए जा रहे हैं कि उसे अचानक अस्पताल में भर्ती कराने के पीछे का कारण जहर ही हो सकता है। कुछ रिपोर्ट्स में कहा गया है कि दाऊद को अज्ञात लोगों ने जहर दे दिया, जिससे उसकी तबीयत अचानक ही बिगड़ गई। हालांकि, उसे सामान्य रूप से बीमार होने की बात कह कर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

आपको बता दें कि इससे पहले भी दावा किया गया था कि दाऊद कई गंभीर बीमारियों से जूझ रहा है. पिछले दिनों चर्चा थी कि गैंग्रीन के कारण कराची के एक अस्पताल में उसके पैर की दो उंगलियां काट दी गई थीं। हालांकि, इस बात की भी पुष्टि नहीं हो पाई थी।

मुंबई हमलों का मास्टरमांइड है दाऊद
आपको बता दें कि और मोस्ट वांटेड आतंकवादी और डी-कंपनी का प्रमुख दाऊद इब्राहिम भारत का एक भगोड़ा है। वह 1993 के मुंबई बम विस्फोटों का मास्टरमाइंड भी है, जिसमें 250 से अधिक लोगों की जान चली गई और हजारों लोग घायल भी हो गए थे। इसके बाद ही उसे भारत का मोस्ट वांटेड आतंकवादी घोषित किया गया था। तब से उसने पाकिस्तान में शरण ले रखी है। भारत ने कई बार इसके सबूत भी पेश किए हैं। हालांकि पाकिस्तान लगातार उसकी देश में मौजूदगी से इनकार करता रहता है।  

Read also: कानपुर में होगी “इनविजिबल मर्डर” की शूटिंग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *