केरल में बाढ़ के कारण हुई मौतों पर उपराष्ट्रपति ने जताया शोक

केरल में बाढ़ पीड़ितों की मदद हेतु धर्माध्यक्षों की अपील - वाटिकन न्यूज़

न्यूज़ जंगल डेस्क,कानपुर : केरल में बाढ़ के कारण कई लोगों की मृत्यु हो गई है। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने इस पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि राज्य और केंद्र सरकार प्रभावितों को सहायता पहुंचाने की पूरी कोशिश कर रही हैं। नायडू ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘केरल में बाढ़ के कारण हुई मौतों से गहरा दुख हुआ है। शोकाकुल परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है और बाढ़ से प्रभावित लोगों की सुरक्षा के लिए प्रार्थना करता हूं। मुझे यकीन है, प्रभावित लोगों के लिए राज्य और केंद्र सरकारें राहत और सहायता प्रदान करने की पूरी कोशिश कर रही हैं।’

बता दें कि केरल में भारी बारिश और भूस्खलन हो रहा है। राज्य के सूचना एवं जनसंपर्क विभाग के अनुसार, रविवार को केरल में भारी बारिश और भूस्खलन के कारण मरने वालों की संख्या बढ़कर 21 हो गई। तीनों रक्षा बलों थल सेना, नौसेना और वायु सेना के कर्मियों को राज्य में बचाव और पुनर्वास प्रयासों के लिए सेवा में लगाया गया है। तमिलनाडु में कन्याकुमारी जिले के कई हिस्सों में भी भारी बारिश हुई है, जिससे थिरपराप्पु जलप्रपात में बाढ़ आ गई है। इस बीच, मौसम विज्ञान विभाग (IMD) का अनुमान है कि केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु और पुडुचेरी में बारिश की तीव्र गतिविधि में आज से कमी आएगी।

राजस्व मंत्री राजन के ने शनिवार को हुई जबरदस्त बारिश के बाद वहां से बीबीसी हिंदी को बताया, “हमारी बचाव टीमों ने कुट्टिकल, कोट्टायम और अन्य जगहों से 13 शव बरामद किए हैं. 9 व्यक्ति अभी भी लापता हैं. हमारी सभी टीमें लापता लोगों को तलाशने की कोशिश कर रही हैं. बारिश से सबसे ज्यादा प्रभावित ज़िले कोट्टायम और इडुक्की हैं।

कुट्टिकल में फंसे हुए लोगों को निकालने के लिए सेना के मद्रास इंजीनियरिंग ग्रुप (एमईजी) को तैनात किया गया था. असल में कल अरब सागर में कम दबाव बनने से कोट्टायम ज़िले में ‘बादल फटने की दो या तीन घटना हुई’, जिससे वहां सबसे ज्यादा घर ढहे और भूस्खलन हुआ।

यह भी देखेंःभारत-पाकिस्तान के बीच मैच पर पुनर्विचार करने की जरूरत:गिरिराज सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *