यूपी को आजतक नहीं मिला योगी से अच्छा सीएमःसुखराम सिंह यादव

Sukhram Singh Yadav Can Join Bjp Including His Son - दंगल में सियासी दांव  ने बढ़ा दी हलचल, भाजपा में जा सकते सपा सांसद | Patrika News

न्यूज डंगल डेस्क,कानपुरःराज्यसभा सांसद सुखराम यादव ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तारीफ में कसीदे पढ़े हैं. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश को योगी जैसा मुख्यमंत्री मैंने अपने जीवन में नहीं देखा. उनका कोई परिवार नहीं है पूरा प्रदेश ही उनका परिवार है। राज्यसभा सांसद ने अपने बेटे के भाजपा में शामिल होने को लेकर कहा कि बेटा बालिग हो चुका है, वो जो भी निर्णय लेगा वह उसका होगा. उन्होंने कहा कि मुझे कहने में बिल्कुल संकोच नहीं है कि भाजपा ने कई ऐसे महत्वपूर्ण काम किए हैं, जिनको जनता भूल नहीं पा रही है. वहीं, अपने बारे में उन्होंने कहा कि मुलायम सिंह यादव के कहने पर वह समाजवादी पार्टी में रहूंगा।

बता दें, सुखराम सिंह यादव के बेटे चौधरी मोहित यादव ने एक बयान में कहा था कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा किए जा रहे अच्छे कामों की सराहना होनी चाहिए. युवा होने के नाते मैं सीएम योगी के कार्यों को पसंद करता हूं. मोहित के इस बयान के बाद यह तय माना जा रहा है कि वह भाजपा में शामिल होंगे।

राज्यसभा सांसद सुखराम यादव ने कहा कि ‘राजनीति में कुछ ऐसे लोग आ चुके हैं, जिनके अंदर कूट-कूट कर अहंकार भरा हुआ है. मैं उनके बारे में ज्यादा कुछ नहीं कहूंगा’. इसके अलावा उन्होंने कानपुर देहात में बन रहे मेडिकल कॉलेज का नाम चौधरी हरमोहन सिंह के नाम पर करने की मांग की।

चौधरी हरमोहन सिंह यादव की जन्म शताब्दी वर्ष कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि चौधरी हरमोहन सिंह यादव का समाजवाद आज योगी और मोदी की सरकार में दिखाई पड़ता है. 14 प्रदेशों के यादव महासभा का समागम देश और प्रदेश की दिशा बदलने के संकेत दे रहा है. उन्होंने कहा मोहित यादव का चयन स्वतंत्र देव सिंह द्वारा किया जाना बहुत बेहतर है, यह सपूत अपने परिवार के सम्मान और वर्चस्व जरूर मजबूत करेगा।

चौधरी साहब के पुत्र सुखराम सिंह यादव सहित उनकी तीसरी पीढ़ी के युवा सदस्य भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम कर समाजवादी पार्टी को बड़ा झटका दे सकते हैं. बता दें, पूर्व सांसद चौधरी हरमोहन सिंह यादव की गिनती उन लोगों में की जाती थी, जो समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के बेहद करीबी रहे. समाजवादी पार्टी संगठन की रीत और नीत क्या होगी, चुनावी रणनीति से लेकर मंत्रिमंडल के गठन तक की रणनीति चौधरी हरमोहन सिंह ही तय किया करते थे।

यह भी देखेंःसीएम योगी करेंगे खादी महोत्सव-2021 का उद्घाटन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *