शाहरुख के बेटे आर्यन को कल तक नही मिली जमानत,तो आर्यन की जेल में होगी दिवाली

aryan khan old video social media: Shah Rukh son Aryan Khan old video is  doing the rounds on social media: आर्यन खान का पुराना वीडियो सोशल मीडिया पर  छाया, मलाइका अपनी फ्रेंड्स

न्यूज़ जंगल डेस्क,कानपुर : बालीवुड के बादशाह कहे जाने वाले शाह रुख खान की दिवाली पर इस बार ग्रहण लग सकता है। इसकी वजह है उनका बेटा आर्यन। दरअसल, आर्यन ड्रग्‍स मामले में पिछले करीब बीस दिनों से मुंबई की आर्थर रोड जेल में बंद है। निचली अदालत से उसकी जमानत याचिका खारिज होने के बाद शाह रुख को अपने बेटे आर्यन को छुड़वाने के लिए अब हाईकोर्ट से आसरा है। बीते दो दिनों से आर्यन की बेल पर बहस चल रही है, जो अब तक खत्‍म नहीं हुई है। आज भी इस मामले में सुनवाई होनी है। यदि आज भी आर्यन को बेल नहीं मिली तो फिर शुक्रवार को उसकी बेल एप्‍लीकेशन पर फिर से सुनवाई होगी। लेकिन यदि शुक्रवार को भी ये बेल नहीं मिली तो फिर आर्यन के जेल से बाहर आने का इंतजर शाह रुख के लिए और लंबा हो जाएगा। इसकी वजह से इन दोनों की दीवाली की खुशियों पर ग्रहण लग सकता है।

ऐसा इसलिए है क्‍योंकि शनिवार और रविवार यानी 30 और 31 अक्‍टूबर को कोर्ट बंद रहेंगे और 1 नवंबर से हाईकोर्ट में दिवाली की छुटिटयां शुरू हो रही हैं। 12 नवंबर (शुक्रवार) तक हाईकोर्ट में रुटीन मामलों की सुनवाई नहीं हो सकेगी। इस दौरान केवल कुछ जरूरी मामले ही सुने जाएंगे। इसके बाद में फिर शनिवार और रविवार की छुट्टी होगी। ऐसे में आर्यन की जमानत पर सुनवाई 15 नवंबर या फिर इसके बाद हो सकेगी। इस बीच यदि आर्यन की जमानत याचिका को कोर्ट ने खारिज कर दिया तो फिर शाहरुख को उसकी जमानत के लिए शीर्ष कोर्ट का दरवाजा खटखटाना होगा।

बता दें कि बालीवुड के बादशाह कहे जाने वाले शाहरुख ने आर्यन की जमानत के लिए महंगे और नामी तेज-तर्रार वकीलों की फौज को उतारा हुआ है। हालांकि, इसके बावजूद भी अब तक वो अपने बेटे को जेल से बाहर निकलवा पाने में नाकाम रहे हैं। वहीं इस मामले में ही विशेष अदालत से दो आरोपियों मनीष राजगरिया और अविन साहू को पहले ही जमानत मिल चुकी है। मनीष राजगरिया को 2.4 ग्राम गांजा के साथ गिरफ्तार किया गया था। कोर्ट ने उसको 50 हजार रुपए के मुचलके के बाद जमानत दी है जबकि अविन साहू के ऊपर दो बार प्रतिबंधित पदार्थ का सेवन करने का आरोप लगा है। इस पूरे मामले में कुल 20 आरोपी बनाए गए हैं।

यह भी देखेंःजीएसवीएम मेडिकल काॅलेज में रक्तादाताओं का हुआ सम्मान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *