दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड लेते वक्त रजनीकांत बोले,बस ड्राइवर दोस्त ने पहचाना टैलेंट

न्यूज जगंल डेस्क: कानपुर 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार (National Film Awards) समारोह में सुपरस्टार रजनीकांत (Rajinikanth) को प्रतिष्ठित दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। अभिनेता को फिल्म इंडस्ट्री में पांच दशकों से उनके शानदार योगदान के लिए ये अवॉर्ड दिया गया। इस खास मौके पर रजनीकांत की पत्नी लता, बेटी सैंदर्या और दामाद धनुष भी ईवेंट पर मौजूद रहे। दिलचस्प बात ये भी रही कि इस ईवेंट पर धनुष को भी फिल्म ‘असुरन’ के लिए बेस्ट एक्टर का नेशनल फिल्म अवॉर्ड मिला। वहीं, अपनी विनिंग स्पीच में रजनीकांत ने कई लोगों के लिए आभार व्यक्त किया।

रजनीकांत ने अवॉर्ड लेते हुए कहा- ‘मैं प्रतिष्ठित दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड को पाकर बहुत खुश हूं। माननीय केंद्र सरकार को मेरा शुक्रिया। मैं ये अवॉर्ड अपने मेंटर, मेरे गुरु के बालाचंदर को समर्पित करता हूं। इस लम्हे में मैं उन्हें आभार के साथ याद करता हूं और मेरे भाई सत्यनारायण गैकवाड जो मेरे पिता जैसे ही है, जिन्होंने मुझे महान वैल्यू और आध्यात्म के साथ बड़ा किया है। कर्नाटक में मेरे दोस्त, बस ट्रांस्पोर्ट ड्राइवर, मेरे सहकर्मी- राजबहादुर। मैं बस कंडक्टर था, उन्होंने मेरे एक्टिंग टैलेंट को पहचाना और मुझे सिनेमा ज्वाइन करने के लिए प्रोत्साहित किया’।

ये भी देखे: क्या भारत में तबाही मचायेगा ? कोरोना का नया वेरिएंट Delta Plus-AY.4.2

फैंस को भी कहा शुक्रिया

उन्होंने आगे कहा- ‘मेरे सभी प्रोड्यूसर्स, डायरेक्टर, को-आर्टिस्ट, टेक्नीशियन्स, डिस्ट्रीब्यूटर्स, एक्जीबिटर्स और मीडिया, प्रेस और मेरे सभी फैंस। तमिल लोग- उनके बिना मैं कुछ भी नहीं हूं। जय हिंद’। रजनीकांत के अलावा इस ईवेंट पर कंगना रनौत, मनोज बाजपेयी, साजिद नाडियावाला, नीतेश तिवारी और विजय सेतुपति जैसे कई सेलेब्रिटीज को भी सम्मानित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *