कांग्रेस के प्रशिक्षण शिविर में बोले राहुल गांधी- RSS की नफरत की विचारधारा कांग्रेस पर हावी

न्यूज जंगल डेस्क, कानपुर : कांग्रेस के प्रशिक्षण शिविर में राहुल गांधी ने आरएसएस को लेकर तंज कसा. राहुल गांधी ने कहा कि आज आरएसएस की विभाजनकारी और नफरत की विचारधारा, कांग्रेस की प्रेम और राष्ट्रवादी विचारधारा पर हावी है. हालांकि हमारी विचारधारा जिंदा है, उसे मिटा नहीं पाए हैं. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि उनके हाथ में लाउडस्पीकर है, मशीनरी है. हमारे पास लाउडस्पीकर नहीं है. इसकी वजह यह है कि हमनें अपनी विचारधारा को नहीं फैलाया. अपने लोगों को यह नहीं बता पाए कि आरएसएस और कांग्रेस में क्या फर्क है. 

राहुल की नजर में कांग्रेस की विचारधारा

राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस की विचारधारा देश में हजारों सालों से रही है. शिवा, कबीर, गुरु नानक जैसे लोग हमारी विचारधारा हैं. हमें उनकी शिक्षा के बारे में जानना चाहिए. क्या उनकी शिक्षा और हिंदुत्व की विचारधारा में कुछ समानता है? क्या हिन्दू और हिंदुत्व एक है या अलग है? एक है तो अलग नाम क्यों? इसकी गहरी समझ जरुरी है. क्या हिंदू धर्म किसी सिख और मुस्लिम की पिटाई करने का नाम नहीं? लेकिन हिंदुत्व इसी का नाम है. उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य से आज RSS की विभाजनकारी और नफरत की विचारधारा कांग्रेस की प्रेम,राष्ट्रवादी विचारधारा पर हावी है.

हमारी विचारधारा पुरानी है- राहुल गांधी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि हिन्दू धर्म और हिंदुत्व में फर्क है. चीन के एक नेता से पूछा कि चीनी कम्युनिस्ट का क्या मतलब है? अगर आप कम्युनिस्ट हैं तो चीनी का क्या मतलब? उसी तरह अगर आप हिंदू हैं तो हिंदुत्व नाम की क्या जरूरत है? हमारी विचारधारा पुरानी है. शिव, कबीर, गुरुनानक, गांधी जैसे लोगों ने इस विचारधारा को अपनाया और फैलाया. उनके आदर्श सावरकर हैं, हमारे महात्मा गांधी. 

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि हमें अपनी विचारधारा को संगठन में मजबूत करना है. हमारा लक्ष्य पूरे देश में इस विचारधारा को फैलाने का है. कांग्रेस के हर सदस्य के लिए वैचारिक प्रशिक्षण अनिवार्य होनी चाहिए, चाहे कोई कितना भी वरिष्ठ हो. 

ये भी पढ़े : रेसलर निशा दहिया मर्डर केस में मुख्य आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार, 1 लाख का इनाम घोषित

इसके साथ ही राहुल गांधी ने कहा कि आजकल कांग्रेस के लोग आरएसएस-बीजेपी में चले जाते हैं. उत्तराखंड के कांग्रेस नेता यशपाल आर्य जो बीजेपी से वापस आए तो पूछा कि वापस क्यों आए तो बोले वहां घुटन होती है, जिया नहीं जाता. वो हमारा इस्तेमाल करते हैं, मगर इज्जत और जगह नहीं देते हैं. कोई डर के भाग सकता है मगर वहां जी नहीं सकता. वहां जीते जी मर जाता है.  

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आगे कहा कि हमें अपनी विचारधारा को स्पष्ट करना होगा. जैसे शिव पूरे संसार को निगल जाते थे वैसे ही कांग्रेस की विचारधारा बीजेपी की विचारधारा को निगल जाएगी. जो भविष्य आज नहीं दिख रहा है वह दिखने लगेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *