जानें अखिलेश यादव की गणित कैसे जितेंगे 300 से अधिक सीटें

Mahanavmi 2022Samajwadi Party Chief Akhilesh Yadav Tweets for Wishes of  Ramnavmi on Mahanavmi BJP Attacks on Akhilesh Yadav

न्यूज़ जंगल डेस्क,कानपुर : उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में 400 से अधिक सीट जीतने का दावा करने वाले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने 300 से अधिक सीट जीतने का गणित सेट कर लिया है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के विकास के लिए भाजपा को हटाना जरूरी हो गया है। प्रदेश को योग्य सरकार की जरूरत है, योगी सरकार की नहीं। सपा की सरकार बनने पर कर्मचारियों की हर समस्या का समाधान किया जाएगा। पार्टी के घोषणा पत्र में भी कर्मचारियों की मांगों को शामिल करेंगे और सत्ता में आते ही उसे पूरा करेंगे।

लखनऊ में रविवार को सपा के पार्टी कार्यालय में बसपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रदेश अध्यक्ष इंजीनियर हरिकिशोर तिवारी व पूर्व सांसद कादिर राणा व उनके समर्थकों को पार्टी में शामिल कराने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से कहा कि 2022 के विधानसभा चुनाव में 300 से अधिक सीटें जीतने का कार्य पूरा हो गया है। भाजपा अपने 150 से अधिक विधायकों का टिकट काट रही है। पहले भाजपा के करीब 100 विधायक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ विधानसभा में धरने पर बैठे थे, हमारे पास पहले से 50 विधायक हैं। उन्होंने कहा कि हमारे पक्ष में सीटों की गिनती अपने आप सेट होती जा रही है, 300 का आकड़ा बन गया है, बाकी जीतने की तैयारी तेज है।

लखनऊ में रविवार को सपा के पार्टी कार्यालय में बसपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा, राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के प्रदेश अध्यक्ष इंजीनियर हरिकिशोर तिवारी व पूर्व सांसद कादिर राणा व उनके समर्थकों को पार्टी में शामिल कराने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से कहा कि 2022 के विधानसभा चुनाव में 300 से अधिक सीटें जीतने का कार्य पूरा हो गया है। भाजपा अपने 150 से अधिक विधायकों का टिकट काट रही है। पहले भाजपा के करीब 100 विधायक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ विधानसभा में धरने पर बैठे थे, हमारे पास पहले से 50 विधायक हैं। उन्होंने कहा कि हमारे पक्ष में सीटों की गिनती अपने आप सेट होती जा रही है, 300 का आकड़ा बन गया है, बाकी जीतने की तैयारी तेज है।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश सरकार किसान आवाज उठाते हैं तो टायर से कुचले जाते हैं। कहा कि हम प्राइवेट सेक्टर में भी आरक्षण का समर्थन करते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा का काम नाम बदलना, रंग बदलना और नेम प्लेट बदलना भर है। जनता भाजपाइयों की वोटों से कुटाई करेगी। भाजपा ने हर वर्ग के साथ धोखा किया है।

बसपा के पूर्व विधायक उदय लाल मौर्य, पूर्व प्रत्याशी बांदा मधुसूदन कुशवाहा, राष्ट्रीय पाल महासभा के प्रदेश अध्यक्ष राम सेवक पाल एडवोकेट, कुशवाहा महासभा के विजय कुशवाहा, लखीमपुरखीरी के पूर्व विधायक डा. विमलेश गौतम, प्रेम सिंह कुशवाहा कानपुर, रोहित यादव प्रधान, कर्मचारी नेताओं में अतुल आक्रोश दूबे, दिलीप मिश्रा, सुनील तिवारी एडवोकेट, राष्ट्रीय कायस्थ महापरिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष इंजीनियर मयंक श्रीवास्तव, चौधरी अमरपाल सिंह, बिल्लू चौधरी पूर्व प्रमुख, कय्यूम चौधरी व शाकर अली पूर्व जिला पंचायत सदस्य, रजनीश कटारिया, प्रवीण प्रजापति, महकार सिंह गुर्जर, रजनीश, अली हसन आदि सपा में शामिल हुए हैं।

यह भी देखेंःबीते 24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 13 हजार नए केस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *