सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद प्रदूषण पर केजरीवाल ने बुलाई इमरजेंसी मीट‍िंग

न्यूज जगंल डेस्क, कानपुर : द‍िल्‍ली में वायु प्रदूषण (Air Pollution) को कम करने और उस पर लगाम लगाने के ल‍िए द‍िल्‍ली सरकार (Delhi Government) हरसंभव कोश‍िश में जुटी है. लेक‍िन प्रदूषण की स्‍थ‍ित‍ि बेहद खराब होती जा रही है. इसको लेकर दिल्ली एनसीआर (Delhi NCR) में प्रदूषण पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के दौरान अहम टिप्पणियां भी की हैं. साथ ही कड़ी ट‍िप्‍पणी करते हुए यह भी कहा है क‍ि दिल्ली एनसीआर में प्रदूषण एक ज्वलंत मुद्दा है.

प्रदूषण के हालात इतने खराब है कि घर में भी मास्क लगाना पड़ रहा है. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने प्रदूषण के मामले पर केंद्र सरकार समेत दिल्ली, पंजाब, हरियाणा सरकार को आपातकालीन मीटिंग करने का आदेश दिया है

इस आदेश के बाद अब द‍िल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरव‍िंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने प्रदूषण के मामले पर आज शाम 5 बजे आपात मीट‍िंग बुलाई है. इस मीट‍िंग में द‍िल्ली के सीएम अरव‍िंद केजरीवाल के अलावा ड‍िप्‍टी सीएम मनीष स‍िसोदिया, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन और द‍िल्‍ली के चीफ सेक्रेटरी व‍िजय कुमार देव के अलावा अन्‍य कई वर‍िष्‍ठ अधि‍कारी प्रमुख रूप से शाम‍िल रहेंगे. इस दौरान प्रदूषण की समस्‍या से कैसे न‍िपटा जाए, इसको लेकर गहन चर्चा की जाएगी.

बताते चलें क‍ि द‍िल्‍ली सरकार की ओर से करीब एक माह से द‍िल्‍ली में एंटी डस्‍ट कैंपेन (Anti Dust Campaign) चलाया जा रहा है. साथ ही रेड लाइड ऑन, गाडी ऑफ कैंपेन भी चल रहा है. लेक‍िन अब सरकार ने इस पर अंकुश लगाने के ल‍िए 11 नवंबर से अभ‍ियान को और तेज कर द‍िया है.

अब द‍िल्‍लीभर में एंटी डस्‍ट कैंपेन के साथ एंटी ओपन बर्न‍िंग कैंपेन (Anti Burning Campaign) चलाया जा रहा है. लेक‍िन एंटी डस्‍ट कैंपेन के तहत कार्रवाई को कम नहीं क‍िया है. द‍िल्‍ली सरकार की ओर से भारत सरकार की ब्‍लू च‍िप वाली कंपनी एनबीसीसी (NBCC) पर भी धूल रोधी मानदंडों का पालन नहीं करने पर कल 5 लाख का जुर्माना लगाया है. यह जुर्माना कड़कड़डूमा स्थित निर्माण स्थल पर लगाया गया है.

ये भी पढ़ें: पश्चिमी यूपी में बढ़ी ठंड से बदला स्कूल का टाईमिग, जाने नया टाइम-टेबल

इस बीच देखा जाए तो केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) की ओर से प्रदूषण से यथा शीघ्र राहत प्रदान करने के लिए पांच सख्त कदम उठाने के निर्णय भी हाल ही में लिए गए हैं. पर्यावरण मंत्री गोपाल राय (Gopal Rai) की अध्यक्षता में एक हाईलेवल मीट‍िंग भी की गई थी. इसमें दिल्ली के अंदर के प्रदूषण को कम करने के लिए 11 नवंबर से 11 दिसंबर तक एंटी ओपेन बर्निंग कैंपेन चलाने का फैसला ल‍िया गया. 10 विभागों को इसकी जिम्मेदारी दी गई. इन विभागों ने 550 टीमें गठित की हैं, जिसमें 304 टीमें दिन में और 246 टीमें रात में पेट्रोलिंग कर ओपेन बर्निंग के मामलों को रोकेंगी. इन 10 व‍िभागों की करीब 550 टीम रात और द‍िन में एंटी बर्न‍िंग कैंपेन के तहत पेट्रोल‍िंग करेंगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *