मणिपुर मे आतंकी हमले में कमांडिंग ऑफिसर और उनका परिवार शहीद

0

न्यूज जगंल डेस्क, कानपुर : मणिपुर के सूरज चंद जिले में शनिवार को घात लगाकर हमले किए गए. इस आतंकवादी हमले में असम राइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर और उनका परिवार शहीद हो गया. एस सेहकेन गांव, सिंगनगट उपखंड के पास ये हमला किया गया. कर्नल विप्लव त्रिपाठी (सीओ-46 एआर), उनकी पत्नी और उनके बेटे की मौके पर ही मौत हो गई और अन्य घायलों को बेहियांग प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में स्थानांतरित कर दिया गया है.

इस बीच हमले में तीन क्यूआरटी सदस्यों की भी मौत हो गई. कथित तौर पर आतंकवादियों ने सुरक्षाकर्मियों को ले जा रहे एक काफिले पर हमला किया. सेना के सूत्रों के अनुसार, काफिले में त्वरित प्रतिक्रिया दल के साथ अधिकारी के परिवार के सदस्य भी थे. हताहत होने की आशंका है. ऑपरेशन अभी भी जारी है. अधिक हताहत होने की आशंका जताई गई थी. 

राज्य के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने इस घटना को कायरता की प्रतीक बताया और इसकी निंदा की है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना शनिवार सुबह करीब 10 बजे सूरज चंद जिले में म्यांमार सीमा के पास हुई. असम राइफल्स के एक काफिले पर आतंकवादियों के एक अज्ञात समूह ने घात लगाकर हमला किया.

ये भी पढ़े : महाराष्ट्र के गढ़चिरौली के जंगल में पुलिस के साथ मुठभेड़, मारे गए चार नक्सली

हालांकि, इस हमले के पीछे मणिपुर की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी का हाथ बताया जा रहा है. बता दें कि मणिपुर की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी का गठन 1978 में किया गया था. इसे भारत सरकार ने आतंकी संगठन घोषित किया है. मणिपुर में यह संगठन भारतीय सुरक्षाबलों पर पहले भी हमले करता रहा है. यह आतंकी संगठन स्वतंत्र मणिपुर की मांग करता रहा है. इसका संगठन का गठन बिश्वेसर सिंह ने किया था.  

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *