“अगूंठा छाप हैं अखिलेश यादव, इतिहास का नहीं पता”- असदुद्दीन ओवैसी भड़के

न्यूज जंगल डेस्क, कानपुर : उत्तर प्रदेश में विधानासभा चुनाव 2022 को लेकर सभी राजनीति पार्टियों ने मोर्चा संभाल लिया है. इसी के साथ नेताओं की जुबानी जंग भी शुरू हो गई है. AIMIM के मुखिया असदुद्दीन  ओवैसी बीते दिन यूपी के मुरादाबाद में प्रचार के लिए पहुंचे थे. यहां उन्होंने समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव पर जमकर हमला बोला. सरदार पटेल की जिन्ना से तुलना करने पर अखिलेश यादव को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव अंगूठा छाप हैं.

ओवैसी इतने पर भी नहीं मानें उन्होंने कहा कि अखिलेश रट्टू तोते की तरह जो लिखकर दे देते हैं बोल देते हैं. इसी के साथ ओवैसी ने अखिलेश को इतिहास पढ़ने की नसीहत भी दे डाली.

अखिलेश यादव ने 31 अक्टूबर को दिया था जिन्ना पर बयान

गौरतलब है कि यूपी चुनाव में जिन्ना पर सपा प्रमुख द्वारा शुरू की गई बहस थमने का नाम नहीं ले रही है. अखिलेश यादव ने 31 अक्टूबर को मोहम्मद अली जिन्ना की तारीफ करते हुए कहा था कि जिन्ना ने भारत की आजादी में योगदान दिया है. इस दौरान अखिलेश ने कहा था कि, “सरदार वल्लभ भाई पटेल, महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और जिन्ना  ने एक ही संस्थान से पढ़ाई की, और बैरिस्टर बने और भारत की आजादी के लिए किसी भी संघर्ष से पीछे नहीं हटे.”

अखिलेश के इस बयान के लिए खिलाफ अदालत में परिवाद दायर किया गया है. इस मामले की सुनवाई 2 दिसंबर को तय है.

ओपी राजभर ने भी जिन्ना की सराहना की

वहीं जिन्ना के हिमायतियों की फेहरिस्त में अखिलेश यादव के नए साथी ओम प्रकाश राजभर भी हैं. वाराणसी में बुधवार को राजभर ने कहा था कि देश का पहला प्रधानमंत्री जिन्ना को बना दिया होता तो देश का बंटवारा ही नहीं होता.” उन्होंने कहा “जिन्ना को देश का प्रधानमंत्री बना दिया होता, इस बात को लेकर आडवाणी जी के विचार पढ़िए, अटल जी के विचार को पढ़िए, जो देश के शुभचिंतक है उनके विचारों को पढ़िए. वह उनकी तारीफ क्यों करते हैं?” राजभर की पार्टी ने उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए सपा के साथ गठबंधन किया है.

ये भी पढ़े : सपा-असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी का गठबंधन परअखिलेश यादव ने दिया ये जवाब

विपक्षी पार्टियों का जिन्ना गुणगान बीजेपी के लिए हो सकता है फायदे का सौदा

बहरहाल चुनाव के वक्त विपक्ष के मुंह से जिन्ना का ये गुणगान बीजेपी के लिए बैठे बिठाए मिले एक मौके जैसा है. ऐसे में जेपी के धुरंधर भी चौके पर चौका जड़ रहे हैं. हाल ही में यूपी बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने ट्विटर पर लिखा था कि, “ विपक्ष के कुछ नेता जल्द ही अपना सीना चीर कर ‘जिन्ना’ की तस्वीर दिखाएंगे और वोट मांगेंगे.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *